Home निबंध Essay On World Cancer Day In Hindi | विश्व कैंसर दिवस पर...

Essay On World Cancer Day In Hindi | विश्व कैंसर दिवस पर निबंध हिंदी में

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

Essay On World Cancer Day In Hindi: विश्व कैंसर दिवस (World Cancer day) हर वर्ष 4 जनवरी को मनाया जाता है। इसका एकमात्र उद्देश्य लोगों में जागरूकता फैलाना है जिससे व्यक्ति का स्वास्थ्य अच्छा रहे और उनमें यह बीमारी किसी भी प्रकार से पनपने न पाए जो केवल जागरूकता के माध्यम से ही संभव है। विश्व कैंसर दिवस (essay on world cancer day in hindi) से सीधा संबंध लोगों को कैंसर के प्रति मूलभूल जानकारी प्राप कराना है।

विश्व कैंसर दिवस का संक्षिप्त इतिहास (History of World cancer day in Hindi)

किसी भी बीमारी को मात देने के लिए सरकार तरह-तरह के प्रयास करती है, जिनमें अच्छी चिकित्सा पद्धति के साथ ही निशुल्क दवाइयों को भी वितरित किया जाता है। इसके अतिरिक्त एक दिन ऐसा भी रखा जाता है, जिस दिन लोगों को बीमारी के प्रति जागरूक किया जाता है। इसकी शुरुआत सबसे पहले 1993 में World Cancer Day के नाम से शुरू हुई और इसकी शुरुआत स्विजरलैंड में यूनियन फॉर इंटरनेशनल कंट्रोल के माध्यम से की गयी थी।

विश्व कैंसर दिवस मनाने का लक्ष्य क्या है?

कैंसर के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए लोगों को बीमारी का शरीर में प्रवेश होने का कारण और लक्षण बताना जरूरी होता है जिससे की वह भविष्य में कोई ऐसी गलती ना करें जिसकी भरपाई उसे पूरी जिंदगी भुगतनी पड़े। Essay On World cancer day in hindi मनाने का मुख्य उद्देश्य इस रोग के विषय में गलत धारणाओं को खत्म करना है। cancer जैसी बीमारी पर रोकथाम लगाने के लिए सरकारी और गैर सरकारी संगठन पूरे विश्व में कैंप लगाने के साथ ही लेक्चर और सेमिनार का आयोजन करती है ताकि लोगों को इसकी सही जानकारी प्राप्त हो और इनके लक्षण को पहचान कर वह cancer जैसी भयानक बीमारी से बच सकें। 

हर वर्ष World cancer day के दिन स्कूलों, स्वास्थ्य संगठनों और इससे संबंधित कार्यालयों में एक विशेष आयोजन किया जाता है। Essay on world cancer day in hindi के आयोजन में सभी को कैंसर जैसी बीमारी से लड़ने की शक्ति दी जाती है और कैंसर संबंधित सावधानियां बरतने की विशेष सलाह दी जाती है ताकि इस बीमारी को मात देने के लक्ष्य पर सफलता हासिल की जा सके। 

कैंसर क्या है?

Essay on World cancer day in hindi की पोस्ट से आप जानेंगे कि 21वीं सदी की गंभीर बीमारी में कैंसर का नाम सबसे पहले आता है। लेकिन कैंसर विशेषज्ञ का मानना है कि इस बीमारी का इलाज संभव है परंतु इसके लिए शुरुआती लक्षण लोगों को पता होना चाहिए। world cancer day से आप जानेंगे कि cancer से लोगों की मौत के कारण में उनका सही समय पर इलाज ना करवाना और पैसों का अभाव माना गया है। कैंसर बीमारी के इलाज में अत्याधुनिक मशीनों का उपयोग किया जाता है। इसकी दवाई भी काफी महंगी आती है। समाज के लिए यह बीमारी एक प्रकार से अभिशाप है।

कैंसर जैसी प्राण घातक बीमारी ने अपने पैर पूरे विश्व में फैला लिए हैं जिसके चलते यह पूरे विश्व में गंभीर चर्चा का विषय है। कैंसर जैसी बीमारी के समापन के लिए ना केवल डॉक्टर एवं विज्ञान को की अहम भूमिका है बल्कि इसे खत्म करने के लिए हर व्यक्ति को जागरूक होने की आवश्यकता है। इन्हीं कारणों से पूरे विश्व भर में world cancer day मनाया जाता है।

कितना भयानक है Cancer? 

एक आंकड़े के अनुसार अधिकतर कैंसर से मरने वालों की संख्या 47% से लेकर 55% तक है और इसकी संभावना विश्व में कम विकसित क्षेत्रों में होती है यदि इसे सही समय पर नियंत्रित नहीं किया गया तो आने वाले कुछ वर्षों तक यह बीमारी खतरनाक स्तर पर पहुंच जाने की संभावना है। इस बीमारी को मात देने के लिए दुनिया भर में world cancer day से जागरूकता फैलाई जा रही है।

कैंसर के शुरुआती लक्षण

Essay on World cancer day in hindi से पता चलता है कि पीड़ित व्यक्ति के शरीर के किसी भी हिस्से पर उत्तको में असमान्य रूप से गांठ बनने लगती है, जिसके परिणाम स्वरूप वह हिस्सा उभर आता है, इसे ट्यूमर कहते हैं। यह ट्यूमर शरीर के जिस भाग में होता है उस कैंसर का नाम भी शरीर के उसी अंग के नाम के साथ जोड़ा जाता है। यह ट्यूमर जब शरीर में बढ़ जाता है तो इसी को भविष्य में कैंसर के नाम से जाना जाता है।

कैंसर होने के कारण:

World cancer day in hindi के इस पोस्ट पर हम समझेंगे कि आखिर कैंसर के होने की मुख्य वजह क्या है?

व्यक्ति के शरीर में कैंसर के पनपने के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें उसका धूम्रपान करना, तम्बाकू-गुटका खाना, फिजिकल एक्टिविटी को अनदेखा करना और बहुत अधिक तनाव में होना। इसके अतिरिक्त खराब डाइट और x-ray, से निकलने वाली ray, Redon ray एवं सूरज से निकलने वाली UV-Ray भी जायज वजह मानी गई है। इसके अलावा इन्फेक्शन और व्यक्ति के अनुवांशिक जीन भी कैंसर होने के जिम्मेदार माने गए हैं। 

world cancer day in hindi की पहल से लोगों को कैंसर होने की वजह कारण और इसके लक्षण से अवगत कराना है ताकि लोग समय से पहले अपने स्वास्थ्य की देखभाल कर सकें। 

कैंसर के प्रकार: 

Essay on World cancer day in hindi में बताया जा रहा है कि वर्तमान समय में लगभग 100 से भी ज्यादा प्रकार के कैंसर के लक्षण पहचाने गए हैं जिनमें सामान्य तौर पर कैंसर से पीड़ित होने वाले लोगों में स्किन कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर, ब्लैडर कैंसर, प्रोटेस्ट कैंसर, कोलोरेक्टल कैंसर, मेलानोमा लिंफोमा के अतिरिक्त किडनी कैंसर और ल्यूकेमिया के मामले शामिल हैं।

कैंसर के रोकथाम क्या है? (World cancer day prevention)

Essay on World cancer day in hindi की इस पोस्ट में आप जानेंगे कि कैंसर से बचने के लिए हर व्यक्ति को एक एक स्वस्थ दिनचर्या रखनी चाहिए। जिसमें वह संतुलित आहार ले, नियमित रूप से शारीरिक व्यायाम करें। 

Cancer से बचने के उपायों को अपना कर सभी अपने जीवन में कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं। कैंसर से बचने के लिए व्यक्ति को किसी भी प्रकार का नशा जैसे गुटका, तंबाकू, सिगरेट आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अतिरिक्त कैंसर से बचने के लिए अधिक तनाव नहीं रखना चाहिए। तनाव बढ़ने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

कैंसर के बारे में लोगो की गलत अवधारणा:

 लोगों में शिक्षा की कमी होने के कारण कैंसर जैसी बीमारी से बचने के उपाय नजर नहीं आते और वह इस बीमारी से डर जाते हैं। Essay on World cancer day in hindi के इस लेख में बताया गया है कि कुछ उपायों को मानकर इससे बचा जा सकता है।

आमतौर पर लोगों के बीच में कैंसर के प्रति सही जानकारी ना होने के कारण वह इस बीमारी के नाम मात्र से भयभीत हो जाते हैं, इसलिए जरूरी है कि Essay on World cancer day in hindi की मदद से सभी को इस बीमारी के बारे में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त हो। ताकि इस बीमारी पर विजय हासिल किया जा सके। 

यह बीमारी केवल धनवान लोगो और वृद्ध लोगों को ही नहीं  होती है। इस रोग का शिकार किसी को भी हो सकता है। लेकिन शुरुआत इसके लक्षणों को पहचान कर कैंसर से बचा जा सकता है।

Speech on World Cancer Day in Hindi

World cancer day in hindi के पोस्ट में आप के लिये  World cancer day पर एक speech पेश किया गया है।

कैंसर एक भयानक बीमारी है। कैसी बीमारी है जिसके बारे में सुनते ही सांसे रुक जाती हैं। पिछले कुछ साल में कैंसर ने काफी पैर पसारे हैं। कैंसर की जागरुकता के लिए हर साल की तरह इस साल भी World Cancer Day का आयोजन किया गया है। Cancer Day हर वर्ष 4 फरवरी को मनाया जा रहा है। कैंसर की जागरुकता जोरो सोरो से की जा रही है, इसके रोकथाम के लिए हर वर्ष अंतरराष्ट्रीय स्तर पर world cancer day का आयोजन किया जाता है।

भारत में भी हर दस में से एक आदमी कैंसर से पीड़ित हो सकता है। World Cancer Day पहली बार 1933 में अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण संघ ने स्विट्जरलैंड में जिनेवा शहर में मनाया गया था। वैसे इस आयोजन से दुनिया भर में काफी लोगों को कैंसर से बचाया जा चुका है। अभी भी दुनिया भर में 7600000 लोग कैंसर से मर जाते हैं जिसमें अधिकतर लोग 30 से 70 वर्ष की आयु में ही अपना दम तोड़ देते हैं। इस खतरनाक बीमारी से बचने के लिए ही World Cancer Day का आयोजन किया गया है। World Cancer Day एक महत्वपूर्ण दिन है, कैंसर के खिलाफ दुनिया भर में प्रतिबद्धता जरूरी है ताकि इस नीति में प्रगति के लिए सहायता व व्यापक रूप से योजनाओं को क्रियान्वित किया जा सके। 

भारत भी अब इस बीमारी की रोकथाम में काफी सक्रिय है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भी राष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण कार्यक्रम चला रही है। क्षेत्रीय कैंसर केंद्र एवं मेडिकल कॉलेजों के माध्यम से राष्ट्रीय स्तर पर चिकित्सकीय सेवाओं का विस्तार व सुदृढ़ीकरण किया जा रहा है।

संयुक्त राष्ट्र व डब्ल्यूएचओ का कैंसर से लड़ने के लिए  World Cancer Day एक महत्वपूर्ण कदम है। वर्ष 2020 में वर्ल्ड कैंसर डे का थीम “आई एम एंड आई विल” था। जिसका अर्थ था कि कैंसर पीड़ित व्यक्ति कैंसर के ऊपर विजय प्राप्त करेगा और खुद को टूटने नहीं देगा।2020 में वर्ल्ड कैंसर डे का 20 वीं वर्षगांठ थी। उम्मीद करता हूँ कि World cancer day के उत्सव पर लोग इस बात से प्रण लेंगे की वह तंबाकू का सेवन नहीं करेंगें, अपने वजन और खान पान पर ध्यान देंगे। फल सब्जी का सेवन करेंगे और अपने व्यायाम पर विशेष ध्यान देंगे।

जरूरी है कि हम अपने समाज को जागृत करें और कैंसर जैसे खतरों से बचने के उपाय को अपना सकें। World Cancer Day पर जितना अधिक हो सके देश के हर युवा को अपने स्तर पर शहरों व गांवों में लोगों को जागरुक करना चाहिए।

World Cancer Day Poem in Hindi

World cancer day in hindi की पोस्ट के माध्यम से आपके सामने world cancer day के दिन एक कविता प्रस्तुत की गई है:

कैंसर एक महामारी है

मौत तक पहुंचाने वाली बीमारी है

प्रदूषण और नशीली चीजें नुकसान पहुंचाती है

शरीर को खोखला बनाती है

सबके मन में विश्वास जगाना है

हम सबको मिलकर आगे आना है

तंबाकू और शराब को बंद करवाना है

ताजे भोजन को अपनाना है

मानव जीवन को स्वस्थ बनाएंगे

कैंसर को दूर भगाएंगे

जन-जन को जागरूक बनाएंगे 

हम विश्व कैंसर दिवस मनाएंगे

दृढ़ निश्चय कर आगे आएंगे

विश्व में जागरूकता फैलाएंगे

जन जन तक यह बात पहुंचाएंगे

हम कैंसर मुक्त भारत बनाएंगे

कैंसर से पीड़ित हो जाते हैं 

लाखों लोग अपनी जान गंवाते हैं

हम एक स्वस्थ भारत बनाएंगे 

4 फरवरी को एक साथ विश्वकैंसर दिवस मनाएंगे

पानी हवा को स्वच्छ बनाना होगा

पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाना होगा

प्रदूषण हमें मिटाना होगा

पेड़ पौधों को कटने से बचाना होगा

एक संकल्प मन में जगाना है

प्रकृति को स्वच्छ बनाना है

जीवन को सुंदर और स्वस्थ्य बनाना है

अधिक से अधिक पेड़ लगाना है

World Cancer Day Slogan in Hindi

World cancer day 2020 का नारा क्या था?

2020 में विश्व कैंसर दिवस का नारा रखा गया था- “आई ऍम एंड आई विल”इस नारा को रखने का मुख्य उद्देश्य यह था कि कैंसर से लड़ रहे हर व्यक्ति का अमूल्य योगदान है। इस स्लोगन में इस बात को भी स्वीकारा गया है कि प्रत्येक व्यक्ति में इस कैंसर से लड़ने की क्षमता होती है। वह चाहे तो कैंसर को भी मात दे सकता है।

इसके अलावा World cancer day in hindi की पोस्ट में World cancer day 2021 slogan दिए गए हैं जिन्हें आप सोशल साइट जैसे facebook, whatsapp और instagram पर भी शेयर कर सकते हैं।

  1. जन-जन को जागरूक बनाना है, विश्व को कैंसर मुक्त बनाना है।
  2. कैंसर से बचना है, तो यही काम करना है, तंबाकू से नाता तोड़ना है, ताजे भोजन से नाता जोड़ना है।
  3. विश्व को स्वस्थ बनाएंगे, कैंसर को दूर भगाएं, कैंसर एक महामारी है, प्रदूषण एक बड़ी बीमारी है।
  4. अधिक से अधिक पेड़ पर्यावरण को बचाना होगा, मानव जीवन को सुरक्षित बनाना होगा।
  5. कैंसर एक महामारी है, प्रदूषण एक बड़ी बीमारी है।
- Advertisement -

Most Popular

Essay on addiction in Hindi and His Causes and Effects of Technology

Essay on addiction in Hindi को सही से परिभाषित किया जाय तो इस का सीधा मतलब है बुरी आदत की लत। जब इंसान को...

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi and His Full Life Story and Biography in Hindi

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi: भगवान बुद्ध का जन्म लगभग 563 ईसा पूर्व में कपिलवस्तु के समीप लुंबिनी वन (आधुनिक रूमिंदाई...

Essay on Seasons in India in Hindi | Rainy Seasons in Hindi

Essay on seasons in India in Hindi से हम जानेंगे कि भारत की ऋतुएं खुद में बहुत ख़ास है। भारत इस पूरे विश्व का...

Essay on Importance of Family in Hindi | Family Values for Kids and Friends

Essay on importance of family in Hindi की  सहायता से हम जानते हैं कि family यानी कि परिवार हमारे जीवन में काफी महत्वपूर्ण भूमिका...

Recent Comments