Home निबंध Essay on Indian army In Hindi | भारतीय सेना पर निबंध हिंदी...

Essay on Indian army In Hindi | भारतीय सेना पर निबंध हिंदी में

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

Essay on Indian Army in Hindi में आज हम आपको Indian Army के विषय में essay on Indian Army life in Hindi, History of Indian Army in Hindi, Essay on Bhartiya Sena in Hindi, Role of women in the Indian armed forces in history के बारे में बताने वाले हैं, जो आपको कई प्रकार की जानकारियों से अवगत कराएगा। इसके अलावा हम शिक्षा के क्षेत्र में School essay on Indian Army soldiers in hindi  के विभिन्न पहलुओं की जानकारी इस लेख के माध्यम से देने वाले हैं।

भारत सरकार के साथ हमारे देश के प्रत्येक भाग की रक्षा सुनिश्चित करने के लिए हमारी Essay on Indian Army सदैव तत्पर रहती हैं। भारत सरकार को पूरी ताकत हमारी सेना के कारण ही मिल पाती है। जिस देश की सेना जितनी ज्यादा मजबूत या ताकतवर होती है वह देश भी उतना ही ज्यादा प्रगतिशील बन सकता है। एक सैनिक का जीवन सदैव उसके राष्ट्र के लिए ही होता है। वे राष्ट्र के गौरव की रक्षा करने के लिए अपने जीवन का बलिदान कर देते हैं। वे एक सच्चे देशभक्त होते हैं और अपनी मातृभूमि की सेवा में अपना जीवन लगाने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। Short and Long essay on Indian army in HIndi में आप जानेंगे कि एक सिपाही एक नायाब हीरो होता है और वह एक ऐसी भूमिका अदा करता है, जिसे देखा नहीं जा सकता अपितु महसूस अवश्य किया जा सकता है।

Essay on Indian Army Life in Hindi

Short Essay on Indian Army के अनुसार हमारे देश की सुरक्षा पूरी तरह से हमारे सैनिकों पर ही निर्भर करती हैं। उनका जीवन गुलाबों की बिस्तर की तरह नहीं होता है बल्कि उनका जीवन पूरी तरह चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों को पार करने वाला होता है। उनके लिए देश की सुरक्षा उनकी पहली प्राथमिकता होती है। Essay on Indian Army के अनुसार हम कह सकते हैं कि भारतीय सेना अपनी तरफ से महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है क्योंकि वह युद्ध लड़ने के साथ-साथ बचाव कार्य में भी सहायक होती है। कई बार प्राकृतिक आपदाओं से बचाव के लिए भारतीय सैनिक हमेशा तैयार रहते हैं।

एक लेखक, शिक्षक, इंजीनियर, डॉक्टर अपनी क्षमताओं के अनुसार अपने कर्तव्य का पालन करते हैं और कुछ लोग उस पर विशेष टिप्पणियां भी करते हैं लेकिन एक सैनिक ही होता है जो इन सभी आपदाओं से निपटने कर लोगों की रक्षा करता है और अपने कर्तव्य को पूरा करता है।

Essay on Indian Army के अनुसार Indian army life में वे सदैव दूसरों के लिए जीते हैं और देश को अपना एक परिवार मानते हैं। साहस, कामरेडसीप और भाईचारे की भावना का दूसरा नाम होता है। Essay on life of soldiers for students and children कोई ध्यान में रखकर लिखा जाए तो हम कह सकते हैं कि भारतीय सेना और उसके वीर जवान भारतीय सेना के सभी सैनिकों में हर समय अमर रहने के लिए एवं मौत को गले लगाने की इच्छा जागरूक रहती हैं। भारतीयों का यह कर्तव्य होना चाहिए कि वह भारतीय सेना के प्रति आदर भाव रखें।

फौजी पर निबंध हिंदी में (Essay on Fauji in Hindi)

Essay on Indian Army में आप आगे जानेंगे कि भारत की सेना दुनिया की बेहतरीन सेनाओं में से एक मानी जाती हैं। हमारे सैनिकों ने प्रागैतिहासिक काल से ही योद्धाओं के सभी रूपों में अपनी अहमियत को साबित किया है। Essay on Fauji in Hindi के आधार पर कह सकते हैं कि हाल ही में हमारे सैनिकों को शांति के इस मिशन को कांगो, कोरिया और भारत में भी भेजा गया था।

History of Indian army in Hindi

Essay on Indian army के अंतर्गत history of Indian army की अगर बात की जाए तो Essay on Indian army के अनुसार पिछले दो विश्व युद्ध के दौरान हमारे सैनिकों ने यूरोप अफ्रीका और मध्य पूर्व में लड़ाई लड़ी थी और ब्रिटिश साम्राज्य के लिए जीत भी हासिल की थी। हमारे सैनिकों ने फ्रांस और अन्य देशों में भी अपनी सेवाएं दी है। उन्हें जहां भी भेजा गया वहां पर जीत उनके कदम चुमते थे। 

हमारे देश के सैनिकों ने कभी आत्मसमर्पण करना नहीं सीखा। उन्होंने करो या मरो के विचारों को अपनाया और चीन के पास जिस तरह के हथियार थे वह हमारे पास उपलब्ध नहीं थे। अक्टूबर नवंबर के महीने में 1962 ईस्वी के दौरान भारत चीन युद्ध हुआ और 1965 ईस्वी के सितंबर महीने के समय में भी भारत पाकिस्तान युद्ध छिड़ गया था जिसने भारतीय सेनाओं ने अपनी महत्वपूर्ण भागीदारी निभाई।

यदि भारत, भारत चीन युद्ध में पीछे हट गया होता तो यह साहस की इच्छा के लिए नहीं था, बल्कि चीन के पास पर्याप्त हथियारों के लिए था जो हमारे पास नहीं थे। अमेरिकी पत्र के अनुसार हमारे सैनिक उस तरह के कपड़ों से ढके हुए नहीं थे जैसी उन्हे आवश्यकता थी।

Essay on Bhartiya sena in Hindi

Indian army par nibandh के अंतर्गत इस बात की भी जानकारी मिलती है कि भारतीय सेना ऑपरेटिंग कमांड और एक ट्रेनिंग कमांड में विभाजित रहती है। प्रत्येक कमांड में कई कोर, डिवीजन, ब्रिगेड, इटालियन या रेजीमेंट, राइफल कंपनी, प्लाटून और सेक्शन होते हैं। इन सभी कमांडो में विभिन्न इतिहास है। आजादी के पहले और बाद में बड़ी संख्या में लड़ाई और सम्मान को जीतने के लिए भारतीय सेना दुनिया भर में कई लड़ाई और अभियानों में भाग ले चुकी है।

Essay on Indian Army के अनुसार भारत का राष्ट्रपति भारतीय सेना का एक सर्वोच्च कमांडर होता है जिसकी कमान सेनाध्यक्ष के पास होती है जो 14 सितारा जनरल होते हैं। दो ऐसे अधिकारी भी उपस्थित होते हैं जिन्हें फील्ड मार्शल के पद से सम्मानित भी किया जाता है। इसके अलावा पांच सितारा रैंक को सम्मान के तौर पर दिया जाता है।

History of Role of women in the Indian armed forces

भारतीय सेना में महिलाओं की भागीदारी को लेकर लंबे समय से डिबेट चल रही हैं। Essay on Indian army इस डिबेट को पूरी तरह से साफ कर देना चाहता है कि महिलाओं की कम संख्या और महत्वपूर्ण ऑपरेशंस में उनकी नग्ण्य भूमिका को लेकर चर्चा होती रहती है। 

 हमारे भारत देश में महिलाओं ने 1990 के दशक में आर्मी में जाना प्रारंभ किया लेकिन अब तक यह आंकड़ा 1610 एयर फोर्स में 1561 आर्मी में और 489 ही नौसेना तक पहुंच सका है। 14 लाख की मजबूत भारतीय सेना में ऑफिसर रैंक में इस वक्त सिर्फ 64770 महिलाएं ही मौजूद है। शॉर्ट सर्विस कमीशन के तहत चुनी महिलाएं सिर्फ 14 से 15 साल तक की अधिकतम अपनी सेवाएं दे पाते हैं बहुत कम महिला अधिकारियों को ही स्थाई कमीशन में जगह मिल पाती है।

Describe Army rules and regulations

Essay on army officer in Hindi के अनुसार भारतीय सेना के अफसरों को उनका उत्तरदायित्व एवं कर्तव्यों का पालन करते हुए देखा जा सकता है।

  1. भारतीय सेना के ऑफिसर रिजर्व आयोग में अपने कर्तव्य और सेवाओं का पालन करते हैं। इसका उत्तरदायित्व उनपर होता है जो मुख्य रूप से रिजर्व बलों के सदस्य होने के नाते उन्हें प्राप्त होता है।
  2. सैनिक विधि के अध्यधीन अन्यथा उसमें ना आने वाले व्यक्ति जो सक्रिय सेवा पर कैंप में प्रगमण कर या केंद्रीय सरकार द्वारा इस निमत्त अधिसूचना द्वारा विनिर्दिष्ट किसी सीमांत चौकी पर नियमित सेना के किसी प्रभाग द्वारा नियोजित हो या उनकी सेवा में हो या फिर उसके अनुचारी ही हो या उसके साथ चलते हो वह जहां भी हो इस अधिनियम के अध्यधीन हो।

वह व्यक्ति जो उप धारा (1) के खण्ड (क) से (छ)तक के अधीन इस अधिनियम के अध्यधीन है उस समय तक जब तक वह सेवा के सम्यक रूप से निवृत अनुचित निरमुक्त पदच्युक्त ना कर दिया जाए, उसे हटा ना दिया जाए या शकलंक पदच्युक्त ना कर दिया जाए, तब तक वह अध्यधीन बना रहेगा।

Quotes On Indian Army in hindi

  • देश का रक्षक एक फौजी

आज अगर हम घरों में चैन की नींद सो रहे हैं तो कहीं ना कहीं कोई इस चैन की नींद की जगह आज बॉर्डर पर बंदूक लेकर खड़ा है, बस हमारी रक्षा के लिए। वह हमारी रक्षा के लिए आज अपनी जान दांव पर लगाकर हर समय बॉर्डर पर कि चौकन्ना है वह बस इसलिए ताकि हम आजाद जी सकें। आज हमें आजादी के दो पर दिए हैं तो वह बस एक फौजी के वजह से। 

कहने के तो वह भी हमारी ही तरह एक आम इंसान है लेकिन उसको धरती मैया ने इंसान के रूप में भगवान भेज दिया है जो मर मिट जाएगा लेकिन इस धरती को एक आंच नहीं आने देगा। आज भी वह अपनी जान की बाजी लगाकर इस धरती और इस धरती के लोगों की हिफाजत के लिए हर समय बॉर्डर पर खड़ा है। यह तो एक फौजी की वाणी में भी गूंजती है आवाज वह खुद कहता है ‘वह पैदा हुआ है देश की रक्षा के लिए ‘,’वह पैदा हुआ है देश के लिए कुर्बानी देने के लिए’।

Quotes On Indian Army, हम बात करेंगे देश के रक्षक एक फौजी कि देश के रक्षक कौन है किसी से भी पूछे तो सब यही कहेंगे फौजी क्या आपने कभी सोचा है यह देश केवल उस एक फौजी का है जो अपनी जान देकर हजारों लोगों की जान बचाता है।

हर व्यक्ति अपने परिवार के अच्छे जीवन के लिए अच्छी व्यापम के लिए कोई ना कोई पेशा आवश्य अपनाता है उसी प्रकार कुछ लोग देश सेवा में निकल जाते हैं जिससे वह अपने परिवार का पेट अच्छे से पाल सकें और उनको अच्छा जीवन दे सकें लेकिन  यह पेशा कहीं ना कहीं देश प्रेम में बदल जाता है और एक सैनिक एक फौजी बन जाता है देश का रक्षक और कहलाता है एक देश प्रेमी। 

कहां जाए तो वह एक तरीके से देश प्रेमी ही तो है जो अपने घर वालों को पीछे छोड़ चल देता है देश की रक्षा करने के लिए एक सैनिक का जीवन बहुत ही कठिन होता है और वह ऐसी ऐसी परिस्थितियों में रहकर हमारी रक्षा करते हैं कि हम इस बात का अंदाजा भी नहीं लगा सकते। 

  • देश प्रेमी के साथ अनुशासित भी होता है एक सैनिक

एक आम आदमी की तरह एक आम इंसान जब वह फौज में भर्ती होने के बाद बाहर निकलता है तो वह अनुशासित भरे जीवन में ऐसे ढल जाता है कि भीड़ में वह इस कदर चमकता है जैसे आसमान में ध्रुव तारा।

एक फौजी की जिंदगी में छोटी सी भूल भी देश के लिए बहुत भारी पड़ सकती है इसलिए शायद यही वजह है कि वह अपनी दिनचर्या को ही अनुशासन में बदल देते हैं और वह अनुशासन की जिंदगी जीने लग जाते हैं।

  • ऐसे एक नौजवान बन जाता है देश रक्षक

सैनिक बनना एक देश प्रेमी बनना सबके बस की बात नहीं है सैनिक बनने के लिए कड़ी तपस्या भी करनी पड़ती है और एक सैनिक की जीवन का उद्देश्य ही देश हित से अधिक कुछ नहीं होता।

कहा जाता है कि कुछ लोग तो सैनिक में भर्ती होते हैं पैसों के लिए लेकिन यह बात बस वहां तक रह जाती है जब तक वह एक फौजी नहीं एक आम इंसान होता है । एक फौजी बनने के बाद उसमें जो हिम्मत आ जाती है वह बस बन के रह जाती है देश के लिए कुछ करने के लिए या तो देश के लिए मर मिटने के लिए।

जब फौज में भर्तियां होती है तो एक इंसान फौज में भर्ती होने के लिए तो आता है ताकि वह पैसे कमा सके लेकिन हजारों में से 10 ही देश की रक्षा के लिए आगे आते हैं और बाकी वापस मुड़ जाते हैं क्योंकि एक फौजी होने के लिए उसमें हिम्मत तो होना ही चाहिए और साथ में देश के लिए मर मिटने का भाव भी होना चाहिए।

  • हमारी हिफाजत के लिए खून में सन जाता है फौजी

वैसे तो हुम सब देश बनते है। इस देश के नाम 26 जनवरी और 15 अगस्त को झंडा फहराकर अपने वीरों को याद करते है और अपने देश को सलामी देते है,  लेकिन  एक आम इंसान से कही परे है एक सैनिक का देह प्रेम। एक फौजी जिस झंडे को हम फहराकर एक मिठाइयां खाते हैं और खुशियां मनाते हैं , एक दिन उसी झंडे में एक फौजी बॉर्डर पर इस देश की रक्षा करते हुए इसी झंडे में लिपटकर एक वीर बन जाता है और इस कदर वह अपनी जिम्मेदारी निभाता है एक देश प्रेमी की।  इस कदर होता है एक सैनिक का देश के प्रति प्यार, एक सैनिक का देश के प्रति अनुशासन और देश की रक्षा करने का भाव।

Poem on Indian army soldiers

Essay on Indian army in Hindi में जानकारी के मुताबिक हम कह सकते हैं कि भारत के सैनिक अपनी नींदों को छोड़कर हमें चैन की नींद सुलाने के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर कर हमारी रक्षा करने के लिए सदैव तत्पर रहते हैं, उन वीरों को हम शत शत नमन करते हैं। जब भी हमारी धरती पर संकट के बादल छाते हैं तब तब इन वीर शहीदों ने अपनी जाबाजी से दुश्मनों से लड़कर के बड़ी कुशलता के साथ इनका सामना किया है और हमेशा हमारी धरती माता की रक्षा के लिए सदैव तत्पर रहे हैं। इन वीर शहीदों के बलिदानों की जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम ही लगती है। इन शहीदों के लिए हम Poem on Indian Army के माध्यम से इनके बलिदानों की प्रशंसा करते है और उन्हें प्रशंसा रूपी पुष्प अर्पण करते हैं और आपके समक्ष एक कविता प्रस्तुत करते हैं-

है जो भारत का वीर जवान,

जिससे विश्व में भारत की पहचान,

रण युद्ध कौशल शक्ति में महान,

वह है भारत की शान,

है वो भारत का वीर जवान।

दुश्मन का करता है जो बुरा हाल,

जिसे देख घबराए काल,

हिंदुस्तान का है वह लाल,

जिसके कंधे पर रक्षा गौरव का भार,

है वो भारत का वीर जवान।

आतंकवादियों से जो कभी ना डरे,

हर मुश्किलों से डट कर लड़े,

खतरों के सामने चट्टान बन अड़े,

बांध कफन जो जीतकर आगे बढ़े,

है वो भारत का वीर जवान।

जो है भारत माता की शान,

हम देशवासियों का अभिमान,

बुलंद हौसलों से भरा इंसान,

है वह हमारे लिए देवता समान,

है वो भारत का वीर जवान।

निगाहे जिनकी जैसे कोई बाज़,

शरीर इनका फौलादी है,

दुश्मन कांपे सुन जिसकी आवाज,

सरहद पर बैठा वो दुश्मनों का यमराज,

है वो भारत का वीर जवान।

देश के लिए वह समर्पित है,

देश के लिए ही वह जीता है,

छोड़ सारे सुख सुविधा,

वह देश के लिए मर मिटता है,

है वो भारत का वीर जवान।

हाथों में बंदूक लिए ,

करे हिफाजत सीमा की,

दिन रात का जिसे ख्याल नहीं,

लड़ते हैं जो बेमौसम ही,

है वो भारत का वीर जवान।

हथेली पर अपनी जिंदगी लिए,

जो सीमा पर खड़ा रहता है,

भूल कर अपने घर परिवार,

जो देश की रक्षा करता है,

है वो भारत का वीर जवान।

भारत माता की रक्षा के लिए,

जो मरते मरते भी लड़ता है,

अपने चंद सांसो को भी,

जो देश के नाम करता है,

है वो भारत का वीर जवान।

है जो भारत माता का पुत्र,

जो हिमालय पर तिरंगा फहराया करता है,

वह है पराक्रमी शूर वीर,

जो वीर जवान का कहलाया करता है,

जिससे विश्व में है भारत की पहचान,

है वो भारत का वीर जवान।

है धर्म जिसका दुश्मन का नाश,

वीरता है जिसकी पहचान,

जो खुद में ही है हिंदुस्तान,

है वो भारत का वीर जवान,

हे जवान तुम्हें शत-शत प्रणाम।

Essay on cyber security in Indian army in Hindi

गृह मंत्रालय द्वारा रक्षा मंत्रालय को इनपुट भेजा गया है, जिसके माध्यम से पाकिस्तान और चीन से साइबर अटैक की संभावना बढ़ रही है। इसके बाद ही रक्षा मंत्रालय द्वारा भारतीय सेना के रक्षा के लिए सशस्त्र बलों के साथ-साथ अन्य संगठनों को आगे बढ़ने के लिए आदेश दिया है। हाल ही में आई खबरों के मुताबिक विदेशी खुफिया एजेंसी के लोगों द्वारा कई महत्वपूर्ण जानकारियों को प्राप्त करने के प्रयास किए गए। 

Essay On Indian Army के लिए साइबर सुरक्षा अत्यंत आवश्यक है जो उन्हें देश की रक्षा करने के क्षेत्र में हौसला प्रदान करेगा। Essay on Cyber security in Indian Army के तहत कहा जा सकता है कि भारतीय सेना के लिए यह काफी महत्वपूर्ण स्थान रखता है जिससे हमारे देश के भविष्य में भी कई प्रकार की समस्याओं से निजात मिल सकती है।

Essay on Indian army in Hindi के अंतर्गत भारत के जवानों पर केवल कविता लिखना ही हमारा उद्देश्य नहीं होना चाहिए बल्कि हमें उनके इन असीम बलिदानों को भी समझना चाहिए। भारतीय सैनिकों का दर्द हम कम से कम अपने दिल में उतार कर देश की सेना को सम्मान के नजरिए से देख सकते हैं। यदि हम ऐसा करते हैं तो यह भी एक प्रकार की देश भक्ति ही कही जाएगी। 

आज हम सब मिलकर Essay On Indian Army लिए कविता के माध्यम से हम आप सब को खासकर बच्चों और पूरे देशवासियों को प्रेरित करना चाहते हैं ताकि आप सब हमारे इन शहीदों के बलिदानों को समझे कि किस प्रकार से हमारे वीर सपूत भारत मां की रक्षा के खातिर अपनी जान को निछावर कर देते हैं ठीक उसी प्रकार हम सब को भी कहीं ना कहीं अपने मन में यह भावना अपने देश के प्रति अवश्य रखनी चाहिए।

- Advertisement -

Most Popular

Essay on Indian army In Hindi | भारतीय सेना पर निबंध हिंदी में

Essay on Indian Army in Hindi में आज हम आपको Indian Army के विषय में essay on Indian Army life in Hindi, History of...

Essay On Cancer in Hindi | कैंसर पर निबंध हिंदी में

आज के इस लेख में हम कैंसर पर निबंध (Essay on Cancer in Hindi) लेकर आए हैं। इस निबंध का उपयोग कक्षा 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10 11...

Essay On Importance Of Hard Work in Hindi | परिश्रम का महत्व पर निबंध हिंदी में

Essay On Importance Of Hard Work in Hindi: परिश्रम का महत्व हमारे जीवन मे कितना अधिक है यह हम सब भलीभांति जानते हैं, खासकर...

Essay on Hindi Diwas in Hindi | हिंदी दिवस पर निबंध हिंदी में

Essay on Hindi Diwas in Hindi: हिंदी भाषा का प्रभाव दुनियाँ में तेजी से बढ़ रहा है। इसकी एक वजह हिंदी भाषा का जमकर...

Recent Comments