Home निबंध How to write essay in board exam | बोर्ड एग्जाम में निबंध...

How to write essay in board exam | बोर्ड एग्जाम में निबंध लिखने का तरीका

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

Write essay in board exam : निबंध लिखना एक कला है, जिसे सीखा जा सकता है। निबंध लेखन, लेखन की एक ऐसी विधा है जिसमें अपने विचारों को लयबद्ध तरीके से खूबसूरती के साथ ऐसे लिखा जाता है, जिससे पढ़ने वाला विषय के बारे में अच्छे से समझ सकें।

निबंध लेखन का तरीका स्टूडेंट्स को भी पता होना बहुत जरूरी है, क्योंकि बोर्ड एग्जाम में निबंध लिखने का तरीका आपको अच्छे नंबर दिल सकता है।

इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप बोर्ड एग्जाम में अच्छा निबंध लिखने का तरीका जान पायेंगे.

बोर्ड एग्जाम में निबंध लिखने का तरीका (write essay in board exam)

किसी भी स्टूडेंट्स के लिए हिंदी विषय मे अच्छा नंबर लाना आसान नही होता, खासकर यदि लिखने की क्षमता अच्छी नही है।

ऐसे में 1-1 नंबर भी बहुत अहम हो जाते हैं। हिंदी की एग्जाम में कई तरह के प्रश्न आते हैं, जिनमे से एक प्रश्न निबंध लिखने का भी होता है।

यह प्रश्न 8-10 नंबर का होता है। यदि आपने अच्छा लिखा तो आपको आसानी से 9 या 10 नंबर मिल सकते हैं। इसके लिए ज्यादा मेहनत करने की भी जरूरत नही है।

बस निबंध लिखते वक्त कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होगा जिससे कि आपका निबंध आकर्षक बन सकें।

बोर्ड एग्जाम में आने वाले निबंध.

किसी भी स्टूडेंट के लिए बोर्ड एग्जाम एक चुनौती की तरह होती है। लेकिन इस चुनौती को भी सही तरीके से जीता जा सकता है।

यदि बोर्ड एग्जाम में निबंध की बात की जाए तो इसमे अधिकतर 3 तरह के ही निबंध आते हैं।

  • विज्ञान के चमत्कार/विज्ञान वरदान है या अभिशाप
  • पर्यावरण/प्रदूषण पर निबंध
  • किसी महापुरुष के ऊपर निबंध (सुभाष चंद्र बोस)

आप बोर्ड एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं तो आपको ये तीन तरह के निबंध ज़रूर तैयार कर लेना चाहिए। इसके बाद आप चाहे तो कुछ और निबंध भी तैयार कर सकते हैं, लेकिन ये प्रमुख हैं।

अब आगे हम जानेंगे कि आखिर वो क्या तरीका है, जिससे कि आप एक अच्छा निबंध लिख सकते हैं।

अच्छा निबंध लिखने के चरण.(write essay in board exam)

एक अच्छा निबंध लिखने के कुछ चरण होते हैं। इन्ही के आधार पर निबंध को बेहतर बनाया जा सकता है। फिर भी यदि आपने बोर्ड एग्जाम में निबंध को सही क्रम में लिखा है तो भी आपको अच्छे नंबर मिल जायेंगे।

एक निबंध को मुख्य रूप से तीन भागों में विभाजित जा सकता है.

  • प्रस्तावना या भूमिका
  • मुख्य विषय पर चर्चा
  • उपसंहार या निष्कर्ष

प्रस्तावना या भूमिका.

किसी भी निबंध की शुरुआत प्रस्तावना से होती है। इसलिए कोशिश करें कि प्रस्तवना बहुत अच्छा लिखा गया हो।

प्रस्तावना में आपको निबंध के विषय के बारे में हल्की-फुल्की जानकरी देनी होती है, लेकिन इस तरह से की आगे पढ़ने की रुचि बरकरार रहे।

प्रस्तावना कि शुरुआत किसी श्लोक, मुहावरा लोकोक्ति से करें तो यह सबसे बेहतर माना जाता है। इसलिए कोशिश करें कि परीक्षा के लिए कोई भी निबंध तैयार करने से पहले उस विषय से जुड़ी कुछ लोकोक्तियाँ, मुहावरे, कहावत, दोहा जरूर तैयार कर लें.

शुरुआत में आप ऐसी ही दो लाइन लिखकर उनका वर्णन करें और इस तरह से की निबंध के विषय के बारे में उससे कुछ जानकरी मिल सके।

मुख्य विषय पर चर्चा.

प्रस्तावना के बाद निबंध की बॉडी यानी कि मुख्य भाग आता है, जिसमें विषय के बारे में गहन चर्चा की जाती है। मुख्य विषय पर जब लिखें तो सबसे पहले विषय के बारे में विस्तार से बताएं।

जैसे आप प्रदूषण के बारे में यदि लिख रहे हैं तो सबसे पहले आपको यह बताना होगा कि प्रदूषण क्या होता है। इसके साथ ही आप यह भी बता सकते हैं कि प्रदूषण के कारण पिछले कुछ वर्षों में दुनियाँ में क्या क्या बदलाव आए हैं।

विषय के बारे में कुछ जानकरी देने के बाद आप विषय को अच्छे से समझाने के लिए छोटे छोटे टॉपिक में लिखना शुरू कर दें।

जैसे प्रदुषण के उदाहरण से ही समझते हैं। विषय के बारे में जानकरी देने के बाद आप प्रदुषण के प्रकार के बारे में लिखे जिसमें हर तरह के प्रदूषण के बारे में लिख सकते हैं।

इसके बाद प्रदूषण से होने वाली हानियाँ लिखें, जिससे कि यह समझ आ सके कि प्रदूषण कितना खतरनाक है। अंत मे आप बता सकते हैं कि प्रदूषण को कैसे रोका जा सकता है।

इस टॉपिक में हर तरह के प्रदूषण रोकने के उपाय अलग अलग लिख सकते हैं, जैसे कि जल प्रदूषण का अलग फिर वायु प्रदूषण का। इसी तरह सिलसिलेवार तरीके से लिखते जाए।

किसी भी निबंध का मुख्य भाग निबंध की जान होती है। इसलिए इसमे जितनी ज्यादा जानकरी दे सकते हैं देने की कोशिश करें।

लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि देखने वाले को आसानी से समझ आ जाए कि आप अब किस चीज़ के बारे में जानकरी दे रहे हैं। यानी मिक्स करने से बचे.

निष्कर्ष या उपसंहार.

ये किसी भी निबंध का आखिरी का हिस्सा होता है। किसी भी निबंध का सारांश इसमे लिखा जाता है। इसको लिखते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि इसमे कोई जानकरी (Data) नही हो।

निबंध का अंतिम भाग भावनात्मक होना चाहिए जिससे कि उस निबंध को पढ़ने वाले को उस निबंध से एक भावनात्मक जुड़ाव महसूस हो सकें।

इसलिए इसे बहुत ही आसान शब्दों में लिखने की कोशिश करें। साथ इस बात का ध्यान भी रखें कि निष्कर्ष हमेशा प्रस्तावना से छोटा हो।

निबंध लेखन से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण टिप्स.(write essay in board exam)

निबंध लिखते दौरान कुछ बातों का जरूर ध्यान रखें जैसे कि-

  • विषय से जुड़ी जानकारी.

निबंध का मुख्य मकसद होता है, किसी विषय के बारे में समझ विकसित करना। एग्जाम में भी यही देखा जाता है कि किस Student की विषय से संबंधित जानकारी ज्यादा है।

इसलिए जिस भी विषय के ऊपर निबंध लिख रहे हैं, इसके बारे ज्यादा से ज्यादा जानकरी जुटा लें। आपके पास जितनी ज्यादा जानकरी होगी, निबंध उतना ही बेहतर बनेगा।

  • वाक्यों को साधारण रखें.

अधिकतर स्टूडेंट्स सोचते हैं कि हम जितना कठिन लिखेंगे उतना अच्छा प्रभाव शिक्षक के ऊपर पड़ेगा, पर यह सही धारणा नही है।

किसी भी विषय के बारे में आप कितना आसान शब्दों में समझा सकते हैं, यह बहुत मायने रखता है। जैसे इसे ऐसे समझ सकते हैं.

अंग्रेजी सीखने के लिए यह बहुत जरूरी होता है कि आप ऐसे लोगों के संपर्क में रहें जो अंग्रेजी जानते हो, इससे आप उनसे प्रतिदिन अंग्रेजी में बात कर सकते हैं।

इसको आप और आसानी से कुछ इस तरह लिख सकते हैं-

अंग्रेजी बेहतर करने के लिए हमें ऐसे व्यक्ति के संपर्क में रहना चाहिए जो अंग्रेजी जानता हो, ताकि नियमित बात कर सकें।

आपके शब्दों में स्पष्टता होना चाहिए, कहने का वही मूल मकसद है। आप यहाँ यह बात देख सकते हैं। ज्यादा घुमाफिरा अपनी बात कहने की जगह सीधे सीधे अपनी बात कहनी चाहिए।

  • शब्दों भंडार हो.

आप हिंदी भाषा मे निबंध लिख रहे हैं लेकिन आपके पास शब्द ही नही है, तो कैसे लिख पाएंगे? इसलिए जरूरी है कि शब्दों की कमी न हो और सही शब्दों की समझ हो।

कोशिश करें कि आप जो निबंध परीक्षा के दृष्टिकोण से तैयार कर रहे हैं उससे जुड़े कुछ अच्छे शब्द आपके दिमाग हो ताकि निबंध में उनका उपयोग कर सकें।

यह एक बहुत जरूरी टिप्स है, जरूर उपयोग करें। जब कि कोई निबंध लिखें तो उसके शुरुआत में आप एक टेबल बना सकते हैं, जहाँ आप निबंध में प्रयोग होने वाली सभी Heading और Subheading के बारे में जानकरी दे।

जब कोई शिक्षक निबंध देखते हैं तो उन्हें ऊपर ही यह पता चल जाता है कि आपने कौन कौन सी Heading जोड़ी है, और कितनी Heading जोड़ी है।

इससे शिक्षक को पहली ही नजर में यह अंदाजा हो जाता है कि आपके पास विषय के संबंध में अच्छी जानकरी है।

  • सारी जानकरी लिख देना.

बहुत से स्टूडेंट्स निबंध लिखते वक्त एक बड़ी गलती है। उन्हें जितनी भी जानकरी होती वह पूरी बस लिख देते हैं, लेकिन इस बात का ध्यान नही रखते की जानकरी देने का भी एक क्रम होता है।

किस जानकरी के बाद क्या आना चाहिए, यह जानना बहुत जरूरी है तभी निबंध अच्छा बनता है। यह आप तभी कर सकते हैं जब खूब अभ्यास करेंगे।

इसलिए एग्जाम के पहले निबंध लिखकर कई बार देखें और उसे पढ़े। इससे आपको अपनी गलती खुद समझ आने लगेगी, जिससे कि आप सुधार कर सकते हैं।

निष्कर्ष.

आशा है कि आप ऊपर बताए सभी बातों को समझ चुके होंगे और बोर्ड एग्जाम में निबंध लिखने का तरीका भी अब आपको पता चल गया होगा।

निबंध पर विशेष ध्यान दें खासकर बोर्ड एग्जाम में, क्योंकि यह कम वक्त में ज्यादा नम्बर दिला सकता है।

- Advertisement -

Most Popular

Essay on addiction in Hindi and His Causes and Effects of Technology

Essay on addiction in Hindi को सही से परिभाषित किया जाय तो इस का सीधा मतलब है बुरी आदत की लत। जब इंसान को...

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi and His Full Life Story and Biography in Hindi

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi: भगवान बुद्ध का जन्म लगभग 563 ईसा पूर्व में कपिलवस्तु के समीप लुंबिनी वन (आधुनिक रूमिंदाई...

Essay on Seasons in India in Hindi | Rainy Seasons in Hindi

Essay on seasons in India in Hindi से हम जानेंगे कि भारत की ऋतुएं खुद में बहुत ख़ास है। भारत इस पूरे विश्व का...

Essay on Importance of Family in Hindi | Family Values for Kids and Friends

Essay on importance of family in Hindi की  सहायता से हम जानते हैं कि family यानी कि परिवार हमारे जीवन में काफी महत्वपूर्ण भूमिका...

Recent Comments