Home निबंध Role of Internet in education in Hindi | इंटरनेट के माध्यम से...

Role of Internet in education in Hindi | इंटरनेट के माध्यम से शिक्षा जगत की भूमिका

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

इंटरनेट के माध्यम से शिक्षा जगत की भूमिका (Role of Internet in education in hindi)

Role of Internet in education : आजकल शिक्षा के क्षेत्र में जो बदलाव दिखाई दे रहे हैं , इसका मुख्य कारण इंटरनेट है। शिक्षा के क्षेत्र में इंटरनेट का अत्याधिक उपयोग हो रहा है जिसे चाह कर भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। आज इंटरनेट प्रत्येक व्यक्ति के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है। इंटरनेट विभिन्न प्रकार की जानकारियां प्राप्त करने का एक ऐसा सस्ता और आसान साधन बन चुका है जो कि समाज में हर वर्ग के व्यक्ति इसका बेहतरीन उपयोग कर सकते हैं। इसका प्रयोग केवल मनोरंजन के लिये नहीं किया जाता है। इसके अतिरिक्त इंटरनेट व्यापार को बढ़ावा देने, विचारों को साझा करने, खरीद बिक्री करने अथवा संवादों का आदान प्रदान करने के उद्देश्य से भी इसका विशेष उपयोग हो रहा है।

इंटरनेट एक ऐसा स्थान है जहां आपको देश विदेश की पूरी जानकारी आसानी से चंद मिनटों में मिल जाती है। इंटरनेट के माध्यम से छात्रों का पढ़ाई करने का तरीका बहुत ही आसान हो गया है। उन्हें किसी तरह की किताबें या फिर कॉपियों की इतनी आवश्यकता नहीं पड़ती जितनी पहले पड़ती थी। छात्र अपने नोट्स के लिये PDF file इंटरनेट के जरिए आसानी से बना लेते हैं । अगर किसी तरह का लेक्चर छूट गया हो तो वह बच्चे भी आजकल ऑनलाइन कोचिंग के माध्यम से शिक्षा पूर्ण कर लेते हैं।
शिक्षा के क्षेत्र में इंटरनेट के उपयोग को निम्नलिखित माध्यमों के रूप में देखा जा सकता है-

1.ओनलाइन शिक्षा ग्रहण करने में:

ऑनलाइन शिक्षा के तौर पर यदि देखा जाए तो इंटरनेट एक ऐसा माध्यम है जहां कई सारे ऐसे वेबसाइट उपलब्ध हैं जहां विद्यार्थियों को केवल लॉगइन करना होता है और वे अलग-अलग विषय के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आज ऑनलाइन शिक्षा का महत्व इतना अधिक बढ़ गया है कि विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के लिए ज्यादा समय इंटरनेट पर देते हैं और कुछ ही समय में कई प्रकार की जानकारी प्राप्त कर लेते हैं।

2.शिक्षा संस्थानों में :

आजकल इंटरनेट के इतने अधिक चलन से शिक्षा संस्थानों में विद्यार्थियों के रिकॉर्ड, विद्यालय और विश्वविद्यालयों के रिकॉर्ड आदि को संभाल कर रखने में काफी सहायता मिली है।इंटरनेट पर कई तरह के ऐसे मुफ्त शिक्षा संस्थान है जिससे आप अपनी पढ़ाई भी कर सकते हैं और बहुत कुछ सीख सकते हैं जैसे दसवीं और बारहवीं के पाठ्यक्रम, इंजीनियरिंग, मेडिकल, प्रतियोगिता, ग्रेजुएशन और ऑनलाइन बिज़नेस की संपूर्ण शिक्षा इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

3. नौकरी प्राप्त करने में:

आज इंटरनेट एक ऐसा जरिया बनता जा रहा है जिसमें विद्यार्थीयों को अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरी पानी के लिए इंटरनेट का सहारा लेना काफी आवश्यक हो गया है क्योंकि इंटरनेट के माध्यम से वे ऑनलाइन नौकरी के लिए अप्लाई भी कर सकते हैं। वे अपना रिज्यूम ऑनलाइन बनवा कर किसी नौकरी के लिए कंपनी को भेजकर अथवा उनसे बातचीत करके उचित स्थान आसानी से पा सकते हैं।

4. प्रतियोगिता परीक्षाओं में सफलता पाने में:

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के लिए इंटरनेट एक ऐसा सहारा है जिससे वे विभिन्न प्रकार की ऑनलाइन प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए काफी बेहतर तरीके से तैयारी कर सकते हैं। बिना किसी शिक्षा संस्थान में जाकर भी वह घर पर इंटरनेट की सहायता से प्रतियोगिता से जुड़ी हर परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं।

5. ई लर्निंग के रूप में:

जब से शिक्षा के क्षेत्र में इंटरनेट का उपयोग किया जा रहा है तब से शिक्षा का एक नया रूप विकसित हुआ है और इस नए रूप को ही ई लर्निंग कहा जाता है। ई लर्निंग एक ऐसा माध्यम है जिससे आप घर पर ही शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। इंटरनेट पर उपलब्ध कई सारे ऑनलाइन वीडियो, ट्यूटोरियल अथवा ऑनलाइन क्लास के जरिए शिक्षा प्राप्त की जा सकती है। इसके लिए केवल आपको एक अच्छे इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता होती है। इससे काफी कम रुपए में अच्छे से अच्छे बुद्धिजीवी शिक्षकों से पढ़ने का मौका मिलता है। कुछ स्रोत तो ऐसे भी होते हैं, जहां बिना कोई रुपए दिए हम प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं।

6. कम्युनिकेशन के क्षेत्र में:

(Role of Internet in education) कम्युनिकेशन के क्षेत्र में इंटरनेट का विशेष योगदान रहा है। इंटरनेट के माध्यम से कम्युनिकेशन सीकर आप घर बैठे किसी भी व्यक्ति से आसानी से बात कर सकते हैं। यदि आप किसी विषय विशेष के बारे में जानना चाहते हैं या ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं तो आप कम्युनिकेशन की सहायता से अपने मित्रों अथवा शिक्षकों से इस बारे में तत्कालिक बातचीत कर सकते हैं। इसमें वीडियो कॉल की प्रक्रिया भी सम्मिलित होती है।

7. कंप्यूटर के रूप में:

कंप्यूटर शिक्षा का एक सर्वोत्तम स्रोत माना जाता है। शिक्षा के क्षेत्र में इसका विशेष योगदान भी है। आज प्रत्येक विद्यालयों अथवा विश्वविद्यालयों में कंप्यूटर लैब अनिवार्य होती है क्योंकि इसके माध्यम से विद्यार्थियों को कई प्रकार की ऐसी चीजें सिखाई जाती है जो उनके भविष्य के लिए अत्यंत उपयोगी और महत्वपूर्ण होती है। कंप्यूटर के माध्यम से वे कई प्रकार की ऐसी जानकारियां प्राप्त करते हैं जिनसे उनकी रोजमर्रा की जिंदगी जुड़ी होती है और विद्यार्थीयों को टेक्नोलॉजी से जुड़ी विशेष प्रकार के जानकारी प्राप्त करने का अवसर मिलता है।

भारत कुछ देशों की तरह ही एक ऐसा देश है जहां आज भी गरीबी की सीमा रेखा इतनी अधिक है की आर्थिक तंगी के कारण लोग अपनी पढ़ाई को अधूरा रख कर कई प्रकार के काम में संलग्न हो जाते हैं और अपनी जीविका चलाते हैं।आज यदि विद्यार्थी किसी बड़ी-बड़ी प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारियां कर रहे होते हैं तो विभिन्न प्रकार के कोचिंग सेंटर की फीस काफी महंगी होती है। इंटरनेट आज के समय में एक ऐसा जरिया बन चुका है जो हमें इस प्रकार की समस्याओं में पड़ने से बचाता है और मुफ्त में शिक्षा उपलब्ध कराता है।

प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन शिक्षा का प्रावधान: (Role of Internet in education in hindi)

शिक्षा के क्षेत्र में यदि इंटरनेट के महत्व को देखा जाए तो प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए जो ऑनलाइन शिक्षा का प्रावधान मिलता है वह अत्यंत महत्वपूर्ण है। विद्यार्थी चाहे कितने भी बड़े परीक्षाओं जैसे जी(JEE), नीट (NEET) या फिर आईएएस (IAS) की तैयारी कर रहे हो, उनकी कोचिंग सेंटर की फीस अब तो आसमान छूती है परंतु इंटरनेट के आने के बाद यह काफी सहज हो चुका है क्योंकि कई प्रकार की ऑनलाइन क्लासेस इंटरनेट पर आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं। विद्यार्थी अब इन परीक्षाओं की तैयारी करने से बिल्कुल भी नहीं घबराते क्योंकि इंटरनेट एक ऐसी सुविधा प्रदान करता है जिससे विद्यार्थी घर पर ही इन बड़े-बड़े परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं।
आज के इस टेक्नोलॉजी के जमाने में ऑनलाइन शिक्षा के साथ-साथ ऑनलाइन परीक्षाओं का भी विशेष महत्व देखा जा रहा है। परीक्षा के लिए हमें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होता है और यह केवल इंटरनेट के सहारे ही संभव है। आजकल सभी परीक्षाएं चाहे वह प्रतियोगिता परीक्षाओं की बात करें अथवा नौकरी प्राप्त करने वाली परीक्षाओं की बात हो, सभी ऑनलाइन परीक्षाओं में सम्मिलित की गई है।

शिक्षा के क्षेत्र में इंटरनेट का दुरुपयोग: (Role of Internet in education in hindi)

इंटरनेट ने हमारे जीवन के मायने पूरी तरह से बदल दिए हैं और हमें विभिन्न तरह की जानकारी प्रदान कर इसके सदुपयोग करने का मार्ग दिखलाया है परंतु इंटरनेट का दुरुपयोग भी शिक्षा के क्षेत्र में काफी हद तक दिखाई देती है जो निम्नलिखित है:

1.इंटरनेट मनोरंजन के प्रचुर स्रोत प्रदान करता है, इसलिए विद्यार्थियों का मन अपने शिक्षा से भटक जाता है और मनोरंजन से जुड़ जाता है और इसका विरोध करना भी अत्यंत कठिन हो जाता है।

2.कई विद्यार्थी ऐसे होते हैं जो ऑनलाइन गेम में अपना काफी वक्त व्यतीत करते हैं। धीरे-धीरे भी इसके आदी हो जाते हैं और इसके पीछे अपने माता-पिता के दिए हुए रुपए भी खर्च कर देते हैं। इस प्रकार इंटरनेट का दुरुपयोग कर वह अपने समय की काफी बर्बादी करते है।

3.आजकल के युवाओं में सोशल मीडिया इस तरह से छा गई है कि वे इस चकाचौंध में खुद को इतना व्यस्त कर देते हैं कि वह अपनी शिक्षा को विशेष महत्व नहीं दे पाते। वे अपने मित्रों और परिवार के सदस्यों को सोशल मीडिया पर फोटो और पोस्ट दिखाने के लिए काफी उत्सुक रहते हैं। इसके अलावा उन्हें दोबारा चेक करने में इनका काफी समय व्यर्थ हो जाता है, जो उनके भविष्य के लिए अत्यंत घातक सिद्ध होते हैं।

निष्कर्ष:

इंटरनेट ने हमारी जिंदगी को काफी हद तक आरामदायक और दिलचस्प बना दिया है। यह एक ऐसा उपयोगी उपकरण है, जिससे हमें अत्यधिक खर्च किए बिना ही कई प्रकार की जानकारियां प्राप्त होती हैं। लोगों की दिनचर्या के कार्यों में शामिल इंटरनेट इंसान के हर कार्य को इतना आसान बना चुका है जिसके बारे में लोग पहले कभी कल्पना में भी सोच नहीं सकते थे। अगर कुछ सालों पहले की बात करें तो हर छात्र एक अच्छी शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाता था। अच्छी शिक्षा पर हर बच्चे का अधिकार होता है और आजकल मोबाइल अथवा कंप्यूटर एक ऐसा साधन बन चुका है, जिससे हर बच्चा इंटरनेट की मदद से एक अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकता है। महान वैज्ञानिक और बिजनेसमैन एलोन मस्क ने भी अपनी रॉकेट साइंस की शिक्षा केवल इंटरनेट के माध्यम से पूरी की थी। इसलिए यह कहना पूरी तरह से सही होगा कि आज के समय में शिक्षा के मामले में इंटरनेट काफी अधिक सहायक है।

इंटरनेट शिक्षा के क्षेत्र में वह अवसर बन कर आया जिससे कई तरह के नये नये कार्यों की उत्पत्ति हुई, जिन कार्यों को सीख कर छात्र आज के समय में एक अच्छे व्यापारी, कलाकार, आविष्कारक बन चुके हैं। इंटरनेट से उच्च शिक्षा को ग्रहण करके आज के छात्र एक अलग ही मुकाम को हासिल कर सकते हैं।

- Advertisement -

Most Popular

Essay on addiction in Hindi and His Causes and Effects of Technology

Essay on addiction in Hindi को सही से परिभाषित किया जाय तो इस का सीधा मतलब है बुरी आदत की लत। जब इंसान को...

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi and His Full Life Story and Biography in Hindi

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi: भगवान बुद्ध का जन्म लगभग 563 ईसा पूर्व में कपिलवस्तु के समीप लुंबिनी वन (आधुनिक रूमिंदाई...

Essay on Seasons in India in Hindi | Rainy Seasons in Hindi

Essay on seasons in India in Hindi से हम जानेंगे कि भारत की ऋतुएं खुद में बहुत ख़ास है। भारत इस पूरे विश्व का...

Essay on Importance of Family in Hindi | Family Values for Kids and Friends

Essay on importance of family in Hindi की  सहायता से हम जानते हैं कि family यानी कि परिवार हमारे जीवन में काफी महत्वपूर्ण भूमिका...

Recent Comments