Home निबंध Essay on my favorite pet dog in Hindi | मेरा पसंदीदा पालतू...

Essay on my favorite pet dog in Hindi | मेरा पसंदीदा पालतू कुत्ते पर निबंध हिंदी में

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

Essay on my favorite pet dog in Hindi: जानवरो का इंसानो के साथ एक गहरा रिश्ता रहा है। चाहे वह आदिमानव का युग हो या फिर आज का युग, हम अपनी कई जरूरतों के लिए जानवरों पर निर्भर रहते है।

एक ऐसा ही जानवर कुत्ता है जो हम इंसानों के साथ हजारों सालों से रह रहा है। इसे वफादार जानवर माना जाता है। कुत्ता काफी महत्वपूर्ण जानवर है इसीलिए कई परीक्षाओं में कुत्ता के ऊपर निबंध लिखने के लिए आता है।

आज हम सभी स्टूडेंट्स की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए My favorite pet dog in hindi एक निबंध लेकर आए है, जिसमे आपको 10 Line on my pet dog in Hindi, Five lines on dog in Hindi के अलावा 1000 शब्द का भी निबंध मिलेगा।

10 Line on my pet dog in hindi (10 लाइन मेरे पालतू कुत्ते पर हिंदी में)

  • कुत्ता एक चार पैरों वाला जीव है।
  • कुत्ते की दो आंखे और 2 कानहोतेहै।
  • कुत्ता एक वफादार जानवर माना जाता है।
  • अक्सर लोग कुत्ते को घर की रखवाली करने के लिए पालते है।
  • कुत्ता शाकाहारी और मांशाहारी दोनों तरह का भोजन करता है।
  • कुत्ते की कई नस्ले होती है, जिनके आधार पर कुत्ते का आकार बड़ा या छोटा होता हैं।
  • कुत्ते जहरीले भी होते है, इनके काटने से इंसान पागल भी हो जाता है।
  • कुत्ते के पैरों के नाखून काफी नुकीले होते है।
  • कुत्ते चलती कार को देखकर अक्सर भोकते हुए उनके पीछे दौड़ते है।
  • कुत्तों में 13 प्रकारकेखूनपाएजातेहैं।

POPULAR BLOGS — Hindi Essay

Five lines on dog in Hindi. (5 लाइन मेरे पालतू कुत्ते पर हिंदी में)

  • कुत्ता और भेड़िया एक ही प्रजाति के जानवर है।
  • कुछ कुत्तो के बाल बड़े होते हैं जबकि कुछ कुत्तों के छोटे बाल होते है।
  • कुत्ता अपना सबसे बड़ा दुश्मन बिल्ली को मानता है, इसीलिए बिल्ली को मारने का प्रयास करता रहता है।
  • अधिकतर कुत्ते रात को ज्यादा सक्रिय रहते हैं जबकि दिन को कम सक्रिय रहते हैं।
  • कुत्ता बहुत दूर पड़ी चीज़ को भी सूंघकर उसका पता लगा लेता है, क्योंकि इसकी सूंघने की शक्ति काफी तेज है।
  • यदि किसी कुत्ते को अपना वफादार साथी बनाना है तो उन्हें खाना देना चाहिए।

Essay on my favorite pet dog in Hindi (मेरा पसंदीदा पालतू कुत्ते पर निबंध हिंदी में) – (200 शब्द)

कुत्ता एक बहुत ही वफादार जानवर माना जाता है। इसीलिए पिछले 30-40 हजार सालों से इंसानो के साथ रह रहा है।

पहले इंसान कुत्तों को अपनी सुरक्षा के लिए पालते थे। कुत्ते इतने ज्यादा वफादार होते है कि एक बार जिसके ऊपर भरोसा कायम हो जाये फिर उसे दोबारा नुकसान नहीं पहुंचाते है। इसी वजह से हमारा और कुत्तों का साथ इतने लम्बे वक़्त से बना हुआ है।

दुनियाँ में हर देश के लोग कुत्ते को पालते है। अमेरिका में ही अकेले 7 करोड़ से भी ज्यादा पालतू कुत्ते है। हमारे घर में भी एक कुत्ता है जिसका नाम हमने बोबो रखा है।

बोबो मेरा सबसे अच्छा दोस्त है। मैं जब भी अकेला होता हूँ बोबो मेरे पास आकर बैठ जाता है, और मस्ती करने लगता है। उसे खेलना बहुत पसंद है और हम सब के साथ वह खेलता रहता है।

वह हमारे घर की पहरेदारी भी करता है। रात के वक़्त हम लोग बोबो को खुला बाहर छोड़ देते है। उसके लिए एक छोटा सा कमरा भी बना हुआ है, जहाँ वह रात को आराम से बैठा रहता है।

उसके लिए रात का खाना और साथ में पानी भी रख देते है,ताकि उसे जब प्यास लगे तो वह पानी पी सके.

Essay on my favorite pet dog in Hindi (मेरा पसंदीदा पालतू कुत्ते पर निबंध हिंदी में) – (300 शब्द)

कुछ जानवर इंसानो के लिए बहुत ही वफादार और उपयोगी होते हैं। ऐसा ही एक जानवर कुत्ता है, जो लाखों सालों से इंसानों का एक साथी बन हुआ है।

कुत्ता एक वफादार जानवर है। यह अपने मालिक से कभी भी धोखा नही करता है। इसी वजह से कुत्ता एक बहुत ही प्रिय जानवर है।

हम लोग भी कुत्तों के साथ बहुत सहज रहते हैं, इसलिए हम इन्हें पालते हैं। कुछ लोग भारत मे देशी नश्ल का कुत्ता पालते हैं, तो कुछ लोग विदेशी नश्ल के कुत्ते पालते हैं।

कुत्ते का शरीर कितना बड़ा होगा यह उनकी नश्ल पर निर्भर करता है। भारत मे पाए जाने वाले कुत्ते उतने लंबे और मोटे नही होते हैं जितना विदेशों में पाए जाने वाले कुत्ते होते हैं।

कुत्ते की सूंघने की शक्ति बहुत ही तेज होती है। कुत्ता वह सब भी सूंघ सकता है जो हम लोग नही सूंघ सकते हैं। इसी वजह से पुलिस की टीम अपने साथ कुत्ते भी रखती है।

कुत्ते का जीवन काल 15-20 वर्ष का होता है लेकिन एक कुत्ता था जो 29 वर्ष तक जीवित रहा। कुत्ते के संबंध में यह भी कहा जाता है कि ये अलौकिक शक्तियों को भी देख सकते हैं जैसे कि भूत-प्रेत।

इसी वजह से कुत्ते रात के वक़्त अचानक से रोने की आवाज़ निकालने लगते हैं। ऐसा कहा जाता है कि यदि कुत्ता किसी के घर के सामने आकर रोता है तो कुछ अनिष्ट होने वाला है।

कुत्ते के संबंध में यह भी कहा जाता है कि अपने घर में सुख समृद्धि के लिए हमेशा आखिरी रोटी कुत्ते को देना चाहिए।

कुत्ता एक ऐसा जीव है जो किसी भी वातावरण में रह सकता है। यह जानवर ठंडी वाले इलाकों भी पाया जाता है और गर्म इलाकों में भी पाया जाता है। कुत्ते के शरीर का तापमान ज्यादा रहता है लेकिन उसे पूरे शरीर से पसीना नही आता। पसीना सिर्फ पंजो और नाक से आता है।

Essay on my favorite pet dog in Hindi (मेरा पसंदीदा पालतू कुत्ते पर निबंध हिंदी में) – (1000 शब्द)

प्रस्तावना.

प्राचीन काल से ही मानव जानवरों के ऊपर बहुत आश्रित रहा है। फिर चाहे वह अपनी सुरक्षा के लिए हो या सामान एक जगह से दूसरे जगह ले जाने के लिए।

आज कई जानवर हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुके हैं जिनमे से एक जानवर कुत्ता है। कुत्ता एक ऐसा जानवर है,जिसे हम पाल सकते हैं।

कुत्ते के ऊपर अध्ययन करने पर पता चलता है कि ये जानवर भेड़िए की ही एक प्रजाति है। पहले इनमे और भेड़िए में कोई अंतर नही होता था।

भेड़िए की तरह की कुत्ते भी एक शिकारी जानवर होते थे। लेकिन इंसानों के साथ रहने में कारण इनमे एक नया गुण विकसित हुआ।

ये सामाजिक जानवर बनने लगे और यह सीख गए कि इंसानों के बीच किस तरह से रहना है। तो यह कह सकते हैं कि कुत्ता एक बहुत ही समझदार जानवर भी है किसकी बुद्धि तेज है।

कुत्ते की शारीरिक बनावट.

सभी जीवो की तरह कुत्ता भी एक चार पैरों वाला जीव है। कुत्ते को अपने तेज नाखून और नुकीले दांतों के लिए जाना जाता है।

कहते हैं कि यदि कुत्ते का नाखून लग जाए या फिर कुत्ता काट लेता है तो व्यक्ति पागल हो जाता है। इसलिए कुत्ते से सावधानी भी बहुत जरूरी है।

कुत्ते के पास दो आंखे और 2 कान होते हैं। कुत्ते की एक पूँछ होती है जिसका उपयोग वह कई कामों में करता है। कुत्ता अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए अपनी पूँछ का इस्तेमाल करता है।

जब कुत्ते को कोई प्यार करता है तो वह पूछ हिलाता है, गुस्सा होता है तो पूँछ स्थिर हो जाती है। कुत्ते की सबसे बड़ी शक्ति उसके नाक में होती है।

इंसानों की तुलना में कुत्ते की सूंघने की शक्ति 10 गुना से भी ज्यादा तेज होती है। इस वजह से वो वह सब भी सूंघ पाते हैं, जो हम लोग नही सूंघ पाते हैं।

कुत्ते की नींद बहुत कम होती है। हल्की सी आहट भी उसे जगा सकती है। कुत्ते के इसी गुण के कारण हमेशा विद्यार्थियों के लिए कहा जाता है कि उनकी नींद कुत्ते के समान होना चाहिए।

कुत्ते के कुल 42 दाँत होते हैं। कुत्ते की सुनने की क्षमता भी बहुत तेज रहती है। इंसान सिर्फ 20,000 डेसिबल की आवाज सुन सकता है, जबकि कुत्ता 35,000 डेसिबल की आवाज सुन सकता है।

कुत्ते के छोटे बच्चे पिल्ले कहलाते हैं। मादा को कुतिया कहा जाता है। एक वयस्क कुतिया साल में एक बार बच्चो को जन्म देती है, जिसमे 5-6 पिल्ले होते हैं।

कुत्ते का आहार.

कुत्ता एक सर्वाहारी जानवर है। यह मांस भी खा सकता है और शाकाहारी भोजन भी करता है। आमतौर पर पालतू कुत्तों को लोग शाकाहारी भोजन ही देते हैं।

जबकि मांसाहारी भोजन अधिकतर आवारा कुत्ते या फिर जंगली कुत्ते खाते हैं। कुत्तों को चॉकलेट खिलाना जानलेवा साबित हो सकता है।

क्योंकि इसमें एक ऐसा तत्व मिला होता है, जिसको खाने से कुत्ते की जान जा सकती है।

कुत्तों का उपयोग.

कुत्तों का उपयोग कई जगह किया जाता है। जैसे सबसे ज्यादा उपयोग आम लोग करते हैं, जो कुत्तों को घर मे पालते हैं।

कुत्ते को घर मे पालने का उद्देश्य या तो घर की सुरक्षा करना हो सकता है या फिर थोड़ा बहुत मनोरंजन हो सकता है।

आर्मी के जवान भी कुत्तों की एक खास टीम बनाकर रखते हैं। कुत्ते की सूंघने की शक्ति बहुत तेज होती है साथ ही यह बहुत वफादार जानवर होता है, इसलिए पुलिस और आर्मी में कुत्तों का बहुत उपयोग किया जाता है।

इनमे शामिल होने से पहले कुत्तों को खास ट्रेनिंग दी जाती है, जिससे उनमें एक खास क्षमता आ जाती है।

कई देशों में कुत्तों की रेस भी करवाई जाती है। यहाँ पर सबसे अच्छे कुत्ते के ऊपर कई लोग उसी तरह दाव लगाते हैं, जैसे घोड़े की रेस में लगाते हैं।

कई बर्फीले जगहों पर कुत्तों की मदद से स्लेज चलाया जाता है, जिसमे घूमने का एक अलग ही आनंद होता है।

कुत्ते की कुछ विशेषताएं.

कुत्ते की कुछ विशेषताएं निम्नलिखित है:-

  • कुत्ता एक ऐसा जीव है जिसकी छठवीं इंद्री भी विकसित होती है जबकि इंसानों की सिर्फ 5 इंद्रियां होती है।
  • कुत्ता और भेड़िया एक प्रजाति के जानवर है, इसीलिए इनका DNA 99% मिलता जुलता है। इसलिए यदि भेड़िए को भी इंसानो के साथ रहना सिखाया जाए तो वह हमारे साथ रहना सीख सकता है।
  • कुत्तों में कुल 13 तरह के खून होते हैं, जबकि इंसानों में कुल चार प्रकार के खून पाए जाते हैं।
  • पिल्ला अपनी माँ के गर्भ में कुल 62 दिनों तक रहता है फिर जन्म होता है। पिल्ला जन्म के बाद भी कुछ दिनों तक न तो देख सकता है, न सुन सकता है।
  • यदि कुत्ते की प्रशिक्षण दिया जाए तो वह 2 साल के बच्चे की तरह समझदार बन सकता है। वह कुछ शब्द भी सीख सकता है।
  • सपने सिर्फ इंसानो के द्वारा ही नही देखे जाते, बल्कि कुत्ते भी देखते हैं। कुत्ते अक्सर सपने देखते वक़्त अपने पैर हिलाते हैं। एक वयस्क कुत्ता सोते वक्त 1 घंटे में 1 सपना देखता है।
  • कुत्ते का उपयोग विश्वयुद्ध में भी किया गया था। वो बारूद लेकर दुश्मन के टैंकों से भिड़ जाते थे।
  • अधिकतर वयस्क कुत्ते कैंसर की वजह से मरते है।
  • दुनियाँ में सबसे ज्यादा जीने वाले कुत्ते का नाम Maggie है जो कि 29 वर्ष 5 माह तक जिया था।

उपसंहार.

कुत्ता, इंसानो का एक वफादार साथी है, इसलिए इनके साथ भी मानवता बरतना चाहिए। कई लोग दीपावली या होली जैसे त्योहारों में कुत्ते को परेशान करते हैं, उन्हें या तो रंग लगा देते है या फिर उनके पूँछ पर पटाखे बांध देते हैं, पर ऐसा करना अपराध है।

कभी किसी भी जानवर को तंग नही करना चाहिए क्योंकि कुछ जानवरों ने हमारे साथ एक लंबा वक्त बिताया है, हमें उनका सम्मान करना चाहिए।

- Advertisement -

Most Popular

Essay on Corona Warriors in Hindi | कोरोना योद्धाओं पर निबंध हिंदी में

आप सब तो जानते ही हैं कि आज के समय में पूरा विश्व कोरोना (Essay on Corona Warriors in Hindi) जैसी वैश्विक महामारी से...

Essay On My Home In Hindi | Mera Ghar Essay in Hindi

हम सब मानव जनजातियों के लिए रहने और आश्रय लेने के लिए एक निवास स्थान की जरूरत होती है जिसे हम सब घर कहते...

Essay on addiction in Hindi and His Causes and Effects of Technology

Essay on addiction in Hindi को सही से परिभाषित किया जाय तो इस का सीधा मतलब है बुरी आदत की लत। जब इंसान को...

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi and His Full Life Story and Biography in Hindi

Essay on Lord Buddha and Gautam in Hindi: भगवान बुद्ध का जन्म लगभग 563 ईसा पूर्व में कपिलवस्तु के समीप लुंबिनी वन (आधुनिक रूमिंदाई...

Recent Comments